स्वास्थ्य मंत्री श्री चन्द्राकर ने स्कूली बच्चों को कृमि नाशक दवा खिलाकर किया कार्यक्रम का शुभारंभ

रायपुर, 09 अगस्त 2017. स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ने आज यहां सिविल लाइन स्थिति नवीन विश्राम भवन में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। श्री चन्द्राकर इस मौके पर प्रतीक स्वरूप स्कूली बच्चें अनिस तांडी, आलोक बघेल, भरत श्रीवास, कुमारी कुसुम, माधवी, और अजीरा को कृमि नाशक दवा खिलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। श्री चन्द्राकर ने शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सुरक्षित और स्वस्थ्य बचपन के लिए दुनियां चितिंत है। देश-विदेश स्तरों मंे सरकारें योजना बनाकर बच्चों के भविष्य साकार करने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने बच्चों की मौलिकता और विकास के लिए प्राथमिकता के तौर पर लोगों की सहभागिता के साथ कार्य करने की अपील की।
श्री चन्द्राकर ने कहा कि बच्चें देश का भविष्य है। देश की बुनियाद को स्वस्थ्य और मजबूत बनाने के लिए निर्धारित समय-सीमा की कार्ययोजना तैयार बच्चों के उिज्जवल भविष्य के लिए काम करना चाहिए। कार्ययोजना ऐसे हो कि उसका प्रभाव और परिणाम सामने आए। ऐसी योजनाओं और बेहतर प्रयास से ही बच्चों में होने वाली बीमारियों नियंत्रण किया जा सकेगा।
स्वास्थ्य विभाग के सचिव श्री सुब्रत साहू ने भी शुभारंभ कार्यक्रम को संबोधित किया। श्री साहू ने इस मौके पर कहा कि स्वस्थ्य शरीर और स्वस्थ्य मन के लिए सर्वप्रथम साफ-सफाई आवयक है। उन्होंने कहा कि बीमारियों से बचने के लिए दवाई से पहले स्वच्छता के प्रति जागरूक होना चाहिए। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुब्रत साहू, स्वास्थ्य आयुक्त श्री आर. प्रसन्ना, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं श्रीमती रानू साहू, संचालक खाद्य एवं औषधी प्रशासन श्री नरसिम्महा राव, छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कम्पनी के प्रबंध संचालक श्री रामाराव, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा महामारी के संचालक श्री आर.आर. साहनी सहित विभागीय अधिकारी और स्कूली छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *