शिक्षा की लपटें नक्सलवाद को बुझा देगी: डॉ. रमन सिंह

  • रायपुर प्रयास स्कूल की सीट दुगुनी होगी
  • कोरबा में भी प्रयास स्कूल खोला जाएगा


रायपुर, 20 जून 2017, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि शिक्षा की लपटें जल्द ही वामपंथी अतिवाद को बुझा देगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार राज्य के दूरदराज के हिस्सों में शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्‍तार करके करके नक्सलियों और आतंकवादियों की हिंसा के विरूद्ध इस माध्‍यम से उचित जवाब दे रही है। बस्तर को अब वामपंथी चरमपंथी हिंसा के दमनकारी प्रयासों से बंधक नहीं बनाया जा सकता। किसी को भी जनसुविधा के आयामों, स्कूलों या अस्पतालों को नष्ट करने का कोई अधिकार भी नहीं है। राज्य के इन संवेदनशील भागों में सरकार के प्रयासों से शिक्षा के प्रसार के साथ जन जागरूकता में वृद्धि हुई है। डॉ. रमन सिंह कल रात अपने आधिकारिक आवास पर एक सम्मानित समारोह में बोल रहे थे, यह समारोह प्रयास स्‍कूल के उन 54 बालकों के लिउ आयोजित किया गया था जिन्‍हें विभिन्न प्रतिष्ठित आईआईटी और एनआईआई में चुना गया है।
मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने कहा कि दंतेवाड़ा और सुकमा जिलों के शहरों में नक्सल प्रभावित जिलों के सात हजार छात्र पढ़ रहे हैं। मुख्‍यमंत्री बाल भव्य सुरक्षा योजना के तहत सभी पांच मंडल मुख्यालयों के दूर-दराज के इलाकों में प्रयास बोर्डिंग स्कूल काम कर रही है जिसके परिणाम बहुत उत्साहजनक हैं। भारत के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रयास स्कूलों के 54 छात्रों का चयन पूरे राज्य के लिए एक गर्व का क्षण है। इस तरह के अद्भुत और उत्‍साहजनक परिणाम के लिए उन्होंने शिक्षकों, माता-पिता और अधिकारियों को बधाई दी। उन्‍होंनें कहा कि इन छात्रों को अपनी क्षमता के प्रति बहुत आत्मविश्वास है जिसके परिणामस्वरूप उनका चयन हुआ है।
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment
इस समाचार को छत्‍तीसगढ़ी में पढ़ें ..