मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना : जुलाई से हर परिवार को मिलेगी 50 हजार रूपए तक इलाज की सुविधा: डॉ. रमन सिंह

रायपुर, 24 जून 2017, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज शाम राजधानी रायपुर में एक प्राईवेट अस्पताल द्वारा आयोजित कार्यक्रम ‘क्रिटिकॉन-2017’ में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में कहा कि छत्तीसगढ़ का प्रत्येक परिवार स्वस्थ और खुशहाल रहे, यह राज्य सरकार का लक्ष्य है। उन्होंने कहा-मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत छत्तीसगढ़ के प्रत्येक बीमित परिवार को अब तक मिल रही 30 हजार रूपए तक इलाज की सुविधा को आगामी जुलाई माह से बढ़ा कर 50 हजार रूपए किया जाएगा। डॉ. सिंह ने चिकित्सा के क्षेत्र में अधिक से अधिक जन सुविधाओं के विकास और विस्तार के लिए सरकार के साथ-साथ निजी क्षेत्र की भागीदारी पर भी बल दिया।
उन्होंने कहा-चिकित्सा एक पवित्र कार्य है। मानवता की सेवा प्रत्येक चिकित्सक का पहला कर्त्तव्य होना चाहिए। कार्यक्रम में देश के जाने-माने विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा गंभीर इलाज संबंधी ज्ञान का आदान-प्रदान किया गया। मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने इस अवसर पर अस्पताल विस्तार के अंतर्गत 150 बिस्तरों वाले नये भवन का लोकार्पण किया। डॉ. रमन सिंह ने कहा - प्रदेश में चिकित्सा सुविधा के विस्तार के लिए अनेक कदम उठाए गए हैं। वर्तमान में एम्स सहित दस मेडिकल कॉलेज संचालित हो रहे हैं। इसी तरह नर्सिंग प्रशिक्षण संस्थानों की संख्या चार दर्जन से भी ज्यादा हो गई है। इससे राज्य के दूरस्थ अंचलों तक के लोगों कोे सुगमता से इलाज की सुविधा मिलने लगी है।
उन्होंने आज हॉस्पिटल के तत्वाधान में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम को भी बेहतर चिकित्सकीय ज्ञान के लिए महत्वपूर्ण बताया। उन्होंने ऐसे कार्यक्रम का आयोजन राज्य के दूरस्थ अंचल स्थित जगदलपुर, अम्बिकापुर और कोरबा जैसे क्षेत्रों में भी करने के लिए आगाह किया। इसमें संबंधित जिला और क्षेत्र के चिकित्सक भाग लें और अपने बेहतर चिकित्सकीय ज्ञान से मरीजों को अच्छी इलाज सुविधा का अधिक से अधिक लाभ दिलाएं। इस अवसर पर विभिन्न राज्यों के विशेषज्ञ चिकित्सक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment
इस समाचार को छत्‍तीसगढ़ी में पढ़ें ..