डॉ. रमन सिंह 19 जून को करेंगे सम्मानित : जे.ई.ई.ई. में नक्सल पीड़ित जिलों के बच्चों का शानदार प्रदर्शन: मुख्यमंत्री ने दी बधाई



रायपुर, 12 जून 2017

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने अखिल भारतीय स्तर पर संयुक्त इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा (जे.ई.ई.ई.) में इस बार भी छत्तीसगढ़ के प्रयास आवासीय विद्यालयों के बच्चों के शानदार प्रदर्शन पर प्रसन्नता व्यक्त की है। उन्होंने इस परीक्षा में इन विद्यालयों से चयनित 62 छात्र-छात्राओं को बधाई दी है और उन्हें 19 जून को राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास में रात्रिभोज के लिए आमंत्रित किया है। मुख्यमंत्री इस अवसर पर नक्सल पीड़ित जिलों के इन विद्यार्थियों को सम्मानित भी करेंगे। उन्होंने आज यहां अपने निवास कार्यालय में आयोजित वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में जिला कलेक्टरों से कहा कि वे इन बच्चों  और उनके अभिभावकों के रायपुर आने-जाने की समुचित व्यवस्था करवाएं।
 उल्लेखनीय है कि इन 62 छात्र-छात्राओं में से ग्यारह ने जे.ई.ई.ई एडवांस में सफलता का परचम लहराया है जिन्हें भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आई.आई.टी.) में प्रवेश मिलेगा। इसके अलावा जे.ई.ई.ई. प्रि-प्रिपेटरी में 51 विद्यार्थी सफल हुए हैं।  इन विद्यार्थियों ने राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एन.आई.टी.) सहित देश के अन्य प्रतिष्ठित तकनीकी शिक्षा संस्थानों में प्रवेश की पात्रता अर्जित कर ली है। मुख्यमंत्री ने इन बच्चों के अभिभावकों, शिक्षकों और प्रशिक्षकों को भी बधाई दी है।
उल्लेखनीय है कि राज्य के नक्सल पीड़ित जिलों के प्रतिभावान विद्यार्थियों के लिए प्रयास आवासीय विद्यालयों का संचालन मुख्यमंत्री बाल भविष्य सुरक्षा योजना के तहत किया जा रहा है। प्रदेश के सभी पांच संभागीय मुख्यालयों में कुल छह प्रयास आवासीय विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं। इनमें से रायपुर के गुढ़ियारी में बालक-बालिकाओं के लिए दो विद्यालय और शेष चार संभागीय मुख्यालयों-दुर्ग, बिलासपुर, अम्बिकापुर और जगदलपुर में एक-एक प्रयास विद्यालय का संचालन किया जा रहा है। इनमें राज्य के नक्सल प्रभावित जिलों के 11वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों को प्रवेश परीक्षा लेकर प्रावीण्य सूची के आधार पर प्रवेश दिया जाता है। 
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment
इस समाचार को छत्‍तीसगढ़ी में पढ़ें ..