राज्य में जांच-परामर्श केन्द्रों की संख्या 100 से बढ़ाकर 125, ब्लड बैंकों की भी संख्या बढ़ी

स्वास्थ्य मंत्री श्री अजय चन्द्राकर की अध्यक्षता में एड्स नियंत्रण और रक्त संचरण समिति की बैठक

रायपुर, 12 जून 2017


स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री श्री अजय चन्द्राकर ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ राज्य एड्स नियंत्रण समिति और राज्य रक्त संचरण परिषद् प्रबंधकारिणी की बैठक ली। बैठक में अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में एकीकृत परामर्श एवं जांच केन्द्र की संख्या 100 से बढ़ाकर 125 की गई है। फंक्शनल एकीकृत परामर्श एवं जाचं केन्द्र की संख्या 235 से बढ़ाकर 640, यौन जनित रोग परामर्श एवं जांच केंद्र 16 से बढ़ाकर 30 और ब्लड बैंक 16 से बढ़कर 23 हो गए हैं। इन केन्द्रों के माध्यम से प्रदेश की चार लाख गर्भवती महिलाओं का एच.आई.वी एड्स परामर्श एवं जांच की गई है।  
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ़ बनाने समितियों के रिक्त पदों को शीघ्र भरा जाए। उन्होंने कहा कि समितयों का गठन मेडिकल कांउसिल ऑफ इण्डिया और छत्तीसगढ़ मेडिकल बोर्ड के नियमों के अनुरूप होना चाहिए। समितियों में सदस्यों के चयन में संबंधित क्षेत्र में कार्य करने वाले व्यक्तियों को प्राथमिकता दी जाए। श्री चन्द्राकर ने प्रदेश में एड्स रोग की रोकथाम के लिए पर्याप्त जांच केन्द्र और आवश्यक दवाईयां की उपलब्धता सुनिश्चित करने पर जोर दिया। श्री चन्द्राकर ने रक्त संचरण परिषत की प्रबंधकारिणी समिति की उपलब्धि की भी जानकारी ली और रक्त दान के प्रति लोगों में जागरूकता लाने स्वयं सेवी संगठनों का सहयोग लेने पर बल दिया।  
अधिकारियों ने बताया कि तृतिय लिंग के व्यक्तियों को भी लिंग प्रत्यारोपण की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। राज्य एड्स नियंत्रण समिति की विशेष पहल से एचआईवी एड्स पीड़ित लोगों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए अन्त्योदय योजना अन्न योजना के तहत राशन कार्ड उपलब्ध कराने की पहल की है। एड्स पीड़ित लोगों के लिए सिटी बसों में निःशुल्क यात्रा पास बनवार्इ्र जा रही है। श्री चन्द्राकर ने कहा कि एड्स पीड़ित लोग भी समाज का अंग है। ऐसे लोगों के इलाज का पुख्ता इंतजाम हो और उन्हें शासन की योजनाओं से लाभान्वित किया जाए।
अधिकारियों ने बताया कि स्वैच्छिक रक्तदान शिविरों मंे रक्तदान को प्रोत्साहित करने के लिए प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए जिलों में कलेक्टर की अध्यक्षता में समिति गठन करने का प्रस्ताव रखा। नाको द्वारा मॉडल  ब्लड बैंक डॉ. भीमराव अम्बेडकर स्मृति अस्पताल रायपुर को क्षेत्रीय प्रशिक्षण केन्द्र के लिए चिन्हाकिंत किया गया है। श्री चन्द्राकर इसके लिए प्रशंसा व्यक्त करते हुए रक्तदान के लिए व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।बैठक में स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव श्री सुब्रत साहू, आयुक्त श्री आर. प्रसन्ना, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं श्री नरेन्द्र शुक्ला, संचालक, खाद्य एवं औषधि प्रशासन श्री नरसिम्भा राव, छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कार्पोरेशन के प्रबंध संचालक श्री एन.टी. रामाराव, राज्य एड्स नियंत्रण समिति के नोडल अधिकारी डॉ.एस.के. बिंझवार सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं सदस्य उपस्थित थे।
Share on Google Plus

About Sanjeeva Tiwari

ठेठ छत्तीसगढ़िया. इंटरनेट में 2007 से सक्रिय. छत्तीसगढ़ी भाषा की पहली वेब मैग्‍जीन और न्‍यूज पोर्टल का संपादक. पेशे से फक्‍कड़ वकील ऎसे से ब्लॉगर.
    Blogger Comment
    Facebook Comment
इस समाचार को छत्‍तीसगढ़ी में पढ़ें ..